कांग्रेस का सूपड़ा साफ़, जनता बोली 'अबकी बार मोदी सरकार'
New Delhi , Delhi ,  India , Asia   | अपडेटेड: Friday, May 16, 2014 at 10:34 am EST

मुकेश तिवारी - जितने विलक्षण इस बार के चुनाव हुए उतने ही विलक्षण इसके परिणाम भी निकले। देश की जनता ने तमाम राजनीतिक दलों की जाति-धर्म आधारित सोच को नकारते हुए विकास और सुशासन की राजनीति को स्वीकार कर लिया है। इसलिए इस बार भाजपा नहीं भी मोदी नहीं बल्कि देश की जनता जीती है।
अब तक प्राप्त रुझानों के अनुसार भाजपा को एक दल के रूप में पूर्ण बहुमत (272) हासिल हो जाएगा जबकि उनकी अगुआई में एनडीए गठबंधन को 325 से ज्यादा सीटें जीतने में कामयाब हो जाएगी। ऐसा लगभग 30 सालों के बाद हो रहा है जब किसी दल या गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिल रहा है। इससे पहले 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या से उत्पन्न हुई सहानुभूति की लहर पर सवार होकर राजीव गांधी पूर्ण बहुमत प्राप्त करने में सफल रहे थे।
इस बार के चुनावों में बीजेपी जहाँ देश के कई क्षेत्रों में घुसपैठ करने में सफल रही है वहीं कई राज्यों में तो उसने स्थानीय और राष्ट्रीय पार्टियों का सूपड़ा ही साफ़ कर दिया है। सबसे अधिक असर उत्तर प्रदेश में देखने में आया है जहाँ की 80 सीटों में से भाजपा 73 सीटों पर जीतती नज़र आ रही है जबकि यहाँ की क्षेत्रीय पार्टियां सपा 4-5 सीटें और बसपा 0 सीट पर सिमट कर रह गई हैं।
सबसे बुरी हालत कांग्रेस की हुई है जिसने इतिहास का अपना सबसे बुरा प्रदर्शन किया है। इस बार पार्टी 50 के आसपास सिमटती नज़र आ रही है अगर ऐसा हुआ तो पार्टी से प्रमुख विपक्षी दल का दर्जा भी छिन जाएगा। देश के सात राज्यों में पार्टी का खाता भी नहीं खुला जबकि किसी भी राज्य में पार्टी दोहरे अंकों में नहीं पहुँच पाई।



यह खबर आपको कैसी लगी ?  0

आपकी राय


Name Email
Please enter verification code