सोची ओलंपिक : क्या कैनेडा अपना रिकॉर्ड तोड़ पाएगा
SotÅ¡i , Krasnodar ,  Russian Federation , Europe   | अपडेटेड: Thursday, Feb 20, 2014 at 06:38 pm EST

मुकेश तिवारी - कैनेडा सोची ओलंपिक में इस उम्मीद के साथ उतरा था कि वो इस बार अपने सबसे अधिक मैडल जीतने के रिकॉर्ड को तोड़ देगा। खेलों के शुरूआती दिनों में ऐसा होता भी लगा क्योंकि चार दिन बाद ही कैनेडा के खाते में 9 मैडल आ गए थे जिसमें 4 गोल्ड मैडल शामिल थे।
लेकिन एक हफ्ते बाद ही लगता है जैसे कैनेडियन खिलाडियों की ऊर्जा ख़त्म सी हो गई है। कैनेडा नंबर एक से खिसककर पांचवें स्थान पर पहुँच गया है। 13 दिन के बाद कैनेडा के कुल 20 मैडल ही हो पाए हैं। जिसमें से पिछले तीन दिनों मिले दो सिल्वर और तीन गोल्ड मैडल शामिल हैं।
कैनेडा इस समय 20 पदकों (7 स्वर्ण, 9 रजत और 4 कांस्य) के साथ पांचवें स्थान पर है। नॉर्वे 10 स्वर्ण पदकों के साथ पहले स्थान पर पहुँच गया है। उसके बाद अमेरिका 8 स्वर्ण सहित 25 पदकों के साथ दूसरे, जर्मनी 8 स्वर्ण सहित 16 पदकों के साथ तीसरे और रूस 7 स्वर्ण सहित 23 पदकों के साथ चौथे स्थान पर काबिज हैं।
अब प्रतियोगिता में सिर्फ चार दिन बचे हैं और कैनेडा की वेंकूवर ओलंपिक (14 स्वर्ण पदकों सहित 26 पदक) की बराबरी करना भी मुश्किल लग रहा है।



यह खबर आपको कैसी लगी ?  0

आपकी राय


Name Email
Please enter verification code