बॉबस्लेग टीम ने कैनेडा को पाँचवां स्वर्ण दिलाया
SotÅ¡i , Krasnodar ,  Russian Federation , Europe   | अपडेटेड: Thursday, Feb 20, 2014 at 05:45 pm EST

मुकेश तिवारी - रूस : कैली उम्फ्री और हेदर मॉयज़ एक बार फिर ओलंपिक चैंपियन बन गई हैं। इस जोड़ी ने बुधवार को अपने ओलंपिक महिला बॉबस्लेग खिताब का सफलतापूर्वक बचाव किया। दोनों ने अमेरिका की एलेना मेयर्स और लॉरीन विलियम्स को एक सेकंड के दसवें हिस्से के मामूली अंतर से हराया।
कैलगरी की उम्फ्री और समरसाइड, पीईआई की मॉयज़ ने चार दौड़ों के बाद तीन मिनट 50.61 सेकंड का समय निकाला। मेयर्स और विलियम्स ने दिन की शुरुआत दो दौड़ों के बाद 0.23 सेकंड के आरामदायक अंतर के साथ शुरू की थी।
लेकिन अंतिम दो दौड़ों में वो पूरी तरह नियंत्रण नहीं रख पाए जबकि उनके कैनेडियन प्रतिद्वंदियों ने लगातार बेहतरीन खेल दिखाते हुए उनसे बढ़त छीन ली। कैनेडियन टीम ने 3:50.71 का समय निकाल कर स्वर्ण पर कब्ज़ा जमाया जबकि अमिरीकी टीम को रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा।
कांस्य पदक पर भी अमेरिका का ही कब्ज़ा रहा। जेमी ग्रुबेल और आजा इवांस की जोड़ी उम्फ्री और मॉयज़ से पूरे एक सेकंड पीछे रही।
उम्फ्री ने मॉयज़ के साथ मिलकर चार साल पहले वेंकूवर ओलंपिक में स्वर्ण जीता था। इस जीत से उत्साहित उम्फ्री ने कहा कि हमारी जीत से यह साबित होता है कि कैनेडा-1 स्लेज से निपटना इतना आसान नहीं है।
उम्फ्री ने कहा "वेंकूवर में जितना किसी सपने के सच होने जैसा था। उस समय हम घर में थे, लेकिन यहाँ जीतना विशेष है। ये महज संयोग नहीं है। इस जीत से हमारी मेहनत, योजना और हम किस तरह के लोग हैं, ये परिलक्षित होता है। वास्तव में यह अहसास बड़ा निराला है। "



यह खबर आपको कैसी लगी ?  0

आपकी राय


Name Email
Please enter verification code