मोदी का लक्ष्य 2019 तक पार्टी को राज्य की सत्ता में लाना
Bhubaneswar , Orissa ,  India , Asia   | अपडेटेड: Sunday, Apr 16, 2017 at 05:32 am EST

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने राज्य में चुनावी जीत के लिए तैयारियां अभी से शुरू कर दी हैं। बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो ने यहां माहौल में 'भगवा रंग' घोल दिया है। पंचायत चुनाव में अच्छी सफलता से उत्साहित पार्टी का लक्ष्य अब राज्य की सत्ता है। भुवनेश्वर में आयोजित पार्टी की यह राष्ट्रीय कार्यकारिणी 2019 में लोकसभा चुनाव के लिए भी अहम है।
इससे पहले बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 19 दिसंबर से 21 दिसंबर तक 1997 में भुवनेश्वर में ही हुई थी. बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद 26 दिसंबर को बीजू पटनायक ने जनता दल से अलग बीजेडी का गठन किया था और 1998 के लोकसभा चुनाव में बीजेडी ने बीजेपी के नेतृत्व में एनडीए साथ मिलकर चुनाव लड़ा था.
नवीन पटनायक नेतृत्व में 2000 में एनडीए की सरकार ओडिशा में बनी थी. 2009 के लोक सभा चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर गठबंधन टूट गया था. लेकिन दो महीने पहले उड़ीसा नगरपालिका और निकाय के चुनाव में जनता का समर्थन मिला. 2012 के नगर पालिका और निकाय के चुनाव में बीजेपी को 36 सीटें ही मिली थीं. इस साल सम्पन्न हुए चुनाव में भाजपा को 850 सीट में से 306 सीटें मिलीं. इस चुनाव में बीजेडी को भी 191 सीटों का और कांग्रेस को 60 सीटों का नुकसान हुआ.



यह खबर आपको कैसी लगी ?  0

आपकी राय


Name Email
Please enter verification code
  
अन्य समाचार