कैनेडियन केविन गैरेट 2 साल की कैद के बाद चीन से डिपोर्ट
Toronto , Ontario ,  Canada , North America   | अपडेटेड: Friday, Sep 16, 2016 at 09:47 am EST

कैनेडियन नागरिक केविन गैरेट को चीन से डिपोर्ट करके उनके परिवार से मिला दिया गया है. उन्हें जासूसी के इलजाम में दो से ज्यादा वर्षों की सजा मिली थी.
केविन के पारिवारिक सदस्यों ने बताया, “गैरेट परिवार उन सभी का शुक्रिया अदा करता है जो अपने विचारों और अपनी प्रार्थनाओं में हमारे साथ था और उन सभी व्यक्तियों का भी शुक्रिया जिन्होंने केविन की रिहाई के लिए काम किया है. केविन को लम्बे समय से प्रतीक्षित आजादी उनकी हक़ पूर्ण आजादी से जीने का अवसर मिलना चाहिए. केविन एक उच्च शुद्धता तथा ईमानदारी से भरा इंसान है. जब वे तैयार होंगे तो परिवार के पास एक लम्बी और रोचक कहानी सुनाने को होगी.”
गैरेट परिवार 2014 में गिरफ्तार होने से पहले लगभग 30 सालों से चीन में रह रहा था. यह दंपत्ति चीन और उत्तरी कोरिया के बौर्डर के समीप चीन में एक कॉफ़ी शॉप चलाता था और क्रिस्चियन एड नमक सामाजिक संस्था का काम करता था. चाइनीज़ कम्युनिस्ट पार्टी नास्तिक है और धर्म वहां का एक नाजुक मसला है.
जूलिया गैरेट को गिरफ्तारी के छह माह बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया लेकिन केविन गैरेट पर जनवरी में कैनेडा के लिए जासूसी करने तथा चीन के राक्जीय सीक्रेटों को चुराने के आरोप में अभियोग लगा था.
कैनेडियन प्रधानमन्त्री जस्टिन ट्रूडो ने चीनी प्रधानमन्त्री झी जिनिपेग तथा प्रीमियर ली क्वांग से मिलकर एक मीटिंग में गैरेट का मामला उठाया था.
शुक्रवार को अपने एक वक्तव्य में ट्रूडो ने कहा, “वे इस बात से काफी खुश हैं कि केविन एक बार फिर सुरक्षित कैनेडा तथा अपने परिवार के पास लौट आया है.”
ट्रूडो ने कहा कि उच्च स्तर पर सरकार इस केस से घिर चुकी थी और उन्होंने दूतावास के अफसरों को बधाई भी दी जिन्होंने विदेश में फंसे कैनेडियन्स के लिए हर रोज पर्दे के पीछे रहकर अथक काम किया.
पूर्व प्रधानमन्त्री स्टीफन हार्पर ने भी प्रीमियर ली के साथ 2014 में हुई एक मीटिंग में इस मुद्दे को उठाया था.
उस समय ली ने कहा था कि चीन न्याय के अंतर्गत देश का निर्माण कर रहा है.
ली के इस माह के अंत में ट्रूडो से मिलने के लिए ओटवा आने की संभावना है.



यह खबर आपको कैसी लगी ?  0

आपकी राय


Name Email
Please enter verification code
  
अन्य समाचार