ईरान पर प्रतिबंध हटने से विदेशी बाजार में तेल में गिरावट
Karaj , Teheran ,  Iran , Asia   | अपडेटेड: Monday, Jan 18, 2016 at 06:08 am EST

मध्य पूर्व के बड़े तेल उत्पादक देश ईरान पर लगे आर्थिक प्रतिबंध हटने से विदेशी बाजार में कच्चे तेल का भाव 12 साल के नए निचले स्तर तक लुढ़क गया है। सोमवार को डब्ल्यूटीआई क्रूड का भाव घटकर 29.15 डॉलर प्रति बैरल तक लुढ़का जो 2003 के बाद सबसे कम भाव है, इस दौरान ब्रेंट क्रूड का भाव भी घटकर 27.67 डॉलर प्रति बैरल तक आ गया। विदेशी बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई गिरावट का असर घरेलू बाजार पर भी दिख सकता है और कमोडिटी एक्सचेंज एमसीएक्स पर कच्चा तेल 2,000 रुपय प्रति बैरल के नीचे बना रहने की संभावना है।
शनिवार को ईरान पर लगे आर्थिक प्रतिबंधों को हटाने के लिए औपचारिक घोषणा हो गई जिसके बाद अब ईरान कच्चे तेल के एक्सपोर्ट को बढ़ा सकता है। जब 2011 में ईरान के ऊपर आर्थिक प्रतिबंध लगाए गए थे उस समय उसका रोजाना एक्सपोर्ट करीब 20 लाख बैरल होता था। बाजार के जानकार मान रहे हैं कि प्रतिबंध हटने के बाद ईरान अपने एक्सपोर्ट को फिर से इसी स्तर तक लाने की कोशिश करेगा।
रविवार को ईरान के तेल मंत्री ने एक्सपोर्ट को बढ़ाने के बारे में घोषणा भी की। ईरान के उप तेल मंत्री के मुताबिक उनका देश जल्दी ही रोजाना एक्सपोर्ट को बढ़ाकार 5 लाख बैरल तक पहुंचा सकता है।



यह खबर आपको कैसी लगी ?  0

आपकी राय


Name Email
Please enter verification code
  
अन्य समाचार